कमजोर वैश्विक संकेतों से सेंसेक्स 300 अंक से अधिक फिसला, निफ्टी 17,750 से नीचे

[ad_1]

कमजोर वैश्विक संकेतों से सेंसेक्स 300 अंक से अधिक फिसला, निफ्टी 17,750 से नीचे

आज सेंसेक्स और निफ्टी की शुरुआत गिरावट के साथ हुई।

नई दिल्ली:

वैश्विक बाजारों से कमजोर संकेतों के बीच गुरुवार को शुरुआती सौदों में भारतीय इक्विटी बेंचमार्क गिर गया। वैश्विक बिकवाली के साथ एशियाई शेयर पीछे हट गए, क्योंकि सख्त मौद्रिक नीति की आवश्यकता के बारे में अमेरिकी नीति निर्माताओं के अधिक आक्रामक शोर से बाजार घबरा गए थे। निवेशकों ने शुक्रवार को होने वाले भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) की द्विमासिक नीति के नतीजे का भी इंतजार किया।

सिंगापुर एक्सचेंज (एसजीएक्स निफ्टी) पर निफ्टी फ्यूचर्स के रुझान ने भी घरेलू सूचकांकों के लिए एक अंतर-शुरुआत का संकेत दिया।

30 शेयरों वाला बीएसई सेंसेक्स शुरुआती कारोबार में 337 अंक या 0.57 प्रतिशत की गिरावट के साथ 59,273 पर बंद हुआ, जबकि व्यापक एनएसई निफ्टी 82 अंक या 0.46 प्रतिशत की गिरावट के साथ 17,726 पर बंद हुआ।

हालांकि, मिड- और स्मॉल-कैप शेयर सकारात्मक नोट पर कारोबार कर रहे थे क्योंकि निफ्टी मिडकैप 100 में 0.25 और स्मॉल-कैप शेयरों में 0.57 फीसदी की तेजी आई।

नेशनल स्टॉक एक्सचेंज द्वारा संकलित 15 सेक्टर गेजों में से आठ लाल निशान में कारोबार कर रहे थे। निफ्टी फाइनेंशियल सर्विसेज और निफ्टी आईटी इंडेक्स में क्रमश: 0.71 फीसदी और 0.79 फीसदी की गिरावट के साथ अंडरपरफॉर्म कर रहे थे।

स्टॉक-विशिष्ट मोर्चे पर, एचडीएफसी जुड़वाँ (एचडीएफसी और एचडीएफसी बैंक) शीर्ष हारे हुए थे क्योंकि शेयरों में क्रमशः 2 प्रतिशत और 1.52 प्रतिशत की गिरावट आई। यूपीएल, विप्रो और टाइटन भी पिछड़ गए। सोमवार को मेगा-विलय की घोषणा के बाद एचडीएफसी जुड़वां प्रत्येक में 10 प्रतिशत की वृद्धि हुई थी। उसके बाद दोनों शेयरों में गिरावट आई है।

कुल मिलाकर बाजार का दायरा मजबूत रहा क्योंकि 1,901 शेयर आगे बढ़ रहे थे जबकि 767 बीएसई पर गिर रहे थे।

30 शेयरों वाले बीएसई इंडेक्स में एचडीएफसी ट्विन्स, विप्रो, टाइटन, टीसीएस, इंफोसिस, एलएंडटी और मारुति शीर्ष हारने वालों में से थे।

इसके विपरीत डॉ रेड्डीज, एनटीपीसी, सन फार्मा, पावरग्रिड, हिंदुस्तान यूनिलीवर और अल्ट्राटेक सीमेंट हरे निशान में कारोबार कर रहे थे।

बुधवार को सेंसेक्स 566 अंक या 0.94 प्रतिशत की गिरावट के साथ 59,610 पर बंद हुआ था, जबकि निफ्टी 150 अंक या 0.83 प्रतिशत की गिरावट के साथ 17,808 पर बंद हुआ था।

[ad_2]